महेंद्र सिंह धोनी की कुछ खूबियां, जिसके कारण वे भारत के सफलतम कप्तान बने!

महेंद्र सिंह धोनी!
महेंद्र सिंह धोनी भारत के सबसे सफलतम कप्तानों में से एक हैं।

महेंद्र सिंह धोनी भारत के सबसे सफलतम कप्तानों में से एक हैं। उन्होंने अपने प्रदर्शन से पूरी दुनिया को अपना लोहा मनवा दिया। उन्होंने भारतीय क्रिकेट को नयी बुलंदियों तक पहुंच दिया।

आईये आज हम महेंद्र सिंह धोनी के उन गुणों के बारे में जानते हैं जिनके कारण धोनी ने आसमान की बुलंदियों को छू लिया।

वर्तमान में रहना।

हम में से ज्यादातर लोग या तो बीते हुए वक़्त को सोच-सोच कर परेशान होते रहते हैं, या फिर भविष्य की चिंता में डूब जाते हैं। धोनी के अनुसार हमें हमेशा वर्तमान में जीना चाहिए। बीते हुए समय का हम कुछ कर नहीं सकते और हमारा भविष्य तभी ठीक हो सकता है जब हम वर्तमान में मेहनत करते हैं। धोनी के अनुसार हमें नतीजे की चिंता ना करते हुए प्रक्रिया पर ध्यान देना चाहिए।

बुद्धि तत्परता।

धोनी हमेशा कहते हैं कि बुद्धि तत्परता बहुत ही ज़रूरी होती है। ज्यादातर लोग किसी भी कार्य को करने में शारीरिक तौर पर तो मौजूद रहते हैं परंतु उनका मस्तिष्क कहीं और ही होता है। हमें हमेशा हर काम करते समय किसी भी विपरीत परिस्थिति के लिए पूरी तरह से तैयार रहना चाहिए।

शांत स्वभाव।

अक्सर लोग परेशानी में आते ही अपना आपा खो देते हैं, लोगों को बहुत जल्दी गुस्सा आ जाता है। भारत के महान बल्लेबाज़ सुनील गावस्कर ने धोनी के बारे में कहा है कि “धोनी में वो खूबी है कि उनका स्वभाव हमेशा एक समान ही रहता है, चाहे वो जीतें या हारें”।

अलग सोच।

महेंद्र सिंह धोनी ने कई बार अपने अजीब-ग़रीब फैसलों से क्रिकेट जगत को अचंभित किया है। उनकी क्रिकेट के प्रति समझ और बुद्धिमानी भरे फैसले लेने की क्षमता किसी से छुपी नहीं है।

काम में स्थिरता।

धोनी के अनुसार कोई भी कार्य रातों-रात सफल नहीं होता, उसके लिए निरंतर पुरुषार्थ एवं मेहनत करनी पड़ती है। जो व्यक्ति लक्ष्य निर्धारित करके अपना दिन रात उस लक्ष्य को हासिल करने में लगा देता है, उसे सफल होने से कोई नहीं रोक सकता।

Comments